Friday 06 Aug 2021 8:26 AM

Breaking News:

विकास खंड मझवाँ में ब्लॉक प्रमुख चुनाव होने से हुई सियासत गरम

विकास खंड मझवाँ में ब्लॉक प्रमुख चुनाव होने से हुई सियासत गरम

विकास खंड मझवाँ में ब्लॉक प्रमुख चुनाव होने से हुई सियासत गरम


  आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मिर्जापुर जिले के विकास खंड मझवाँ क्षेत्र  में ब्लाक प्रमुख का  चुनाव नजदीक आ गया है जिसकी वजह से राजनीतिक गलियारों में गहमा गहमी का माहौल बन गया है । मझवाँ क्षेत्र से खड़े ब्लॉक प्रमुख  प्रत्याशियों ने अपने समर्थकों को इकट्ठा करने और क्षेत्र पंचायत सदस्यों को अपने पक्ष में करने के लिए दिन रात एक कर दिया है  और एड़ी से चोटी की ताकत  लगा दी  है। वहीं कुछ  क्षेत्र पंचायत  सदस्य गण तो  प्रमुख पद के दावेदारों के साथ घूम रहे हैं तो कुछ अभी अपने को स्वतंत्र बता रहे हैं साथ ही क्षेत्र पंचायत सदस्यो के खरीद फरोख्त की बात भी चर्चा का विषय बनी हुई  है क्षेत्र पंचायत सदस्यों को अपने पक्ष में करने के लिए कई तरह के प्रलोभन दिए जा रहे हैं  और इस तरह की चर्चाओं में जो बात सामने आ रही है वो ये है की  दिन रात सभी प्रमुख पद प्रत्याशी सदस्यो को रिझाने के लिए कई वायदे कर रहे  है और प्रलोभन बड़े बड़े दे रहे है विश्वस्त सूत्रों से पता चला है की सदस्यो को रिझाने के लिए  एक लाख से  तीन लाख तक का प्रलोभन दिया जा रहा है संभावना है कि इसमें और भी बढ़ोतरी हो सकती है वही मझवां क्षेत्र में यह लड़ाई मुख्य रूप से दो ही प्रत्याशियों में रह गई है और विकासखंड मझवां में दो ही ब्लाक प्रमुख पद के दावेदार आमने सामने ताल ठोक रहे है दोनों अपने आपको जीतता हुआ बता रहे हैं एक प्रत्याशी  पुराने है जो की पहले भी ब्लॉक प्रमुख रह चुके हैं और दूसरे अभी ब्लॉक प्रमुख की लड़ाई में पहली बार अपनी किस्मत आजमा रहे है सबसे बड़ी  बात तो यह है यह दोनों प्रत्याशी इस समय सत्तारूढ़ पार्टी भारतीय जनता पार्टी से समर्थन पाने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा रहे हैं भारतीय जनता पार्टी से संबंध रखने वाले नेताओं को लेकर जिले से लेकर क्षेत्रीय कार्यालय और प्रदेश तक की दौड़ लगा रहे हैं और भाजपा के मुख्य प्रत्याशी बनने  की अपनी दावेदारी को मजबूत बता रहे हैं मजे की बात यह है कि दोनों ही प्रत्याशी भारतीय जनता पार्टी के सदस्य नहीं है और विधानसभा और लोकसभा चुनाव में इन दोनों प्रत्याशियों द्वारा भारतीय जनता पार्टी को पिछले चुनाव में हराने में अपनी कोई  कसर नहीं छोड़ी है। लेकिन मजे की बात तो यह है की मझवां और कछवां के पार्टी के कार्यकर्ता पुराने और नए सभी लोग दो गुटों  मे बटें हुए हैं और अपने अपने प्रमुख प्रत्याशियों को लेकर टिकट दिलाने की होड़ में लगे हुए हैं दिलचस्प बात यह है कि अब दो ही दिन पर्चा भरने को शेष बचे है देखना यह है किसके हाथ सत्तारूढ़ पार्टी की लॉटरी लगती है । जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव के उपरांत अब सभी ब्लॉक प्रमुख पद के प्रत्याशी यह कयास लगा लिए हैं कि अगर सत्तारूढ़ पार्टी का समर्थन हमें प्राप्त हो जाता है तो हमारी जीत निश्चित और पक्की है। सत्तारूढ़ दल का टिकट प्राप्त करना ही जीत की गारंटी है।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *