Sunday 26 Jun 2022 14:46 PM

प्रयागराज : डॉ. एके बंसल हत्याकांड का एसटीएफ ने किया खुलासा।

प्रकाश प्रभाव न्यूज़

रिपोर्टर : अब्बास

दिनांक : 5/04/2021

प्रयागराज :प्रयागराज जिले के सबसे सनसनीखेज हत्याकांड में शुमार जीवन ज्योति अस्पताल के  मशहूर निदेशक डॉक्टर एके बंसल की हत्या के मामले का आखिरकार काफी देर से ही सही चार साल बाद सोमवार को खुलासा हो गया।

एसटीएफ ने मामले का खुलासा करते हुए दावा किया कि पटना निवासी एडमिशन माफिया आलोक सिन्हा ने सुपारी देकर डॉक्टर बंसल की हत्या कराई थी।

वारदात को प्रतापगढ़ के दो शूटरों ने अंजाम दिया था। जिनमें से एक शोएब सोमवार को गिरफ्तार किया गया है। उससे पूछताछ में इस बात का भी खुलासा हुआ कि हत्याकांड की साजिश में कैबिनेट मंत्री नंदी पर हमले का आरोपी दिलीप मिश्रा और प्रयागराज का ही शातिर अपराधी अख्तर कटरा भी शामिल था।

पकड़ा गया शूटर शोएब दुर्दांत अपराधी है जिसके ऊपर जनपद प्रतापगढ़ से 50 हजार का इनाम भी घोषित है। उसने पूछताछ में बताया है कि पटना निवासी एडमिशन माफिया आलोक सिन्हा को डॉक्टर बंसल ने अपने बेटे के एडमिशन के लिए 55 लाख रुपये दिए थे।

एडमिशन कराने की जगह उसने रुपये हड़प लिए थे। जिस पर डॉक्टर बंसल ने उसके खिलाफ सिविल लाइंस थाने में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भी भेजा था। 

एसटीएफ अफसरों के मुताबिक, पूछताछ में शूटर शोएब ने यह भी बताया है कि नैनी जेल में बंद रहने के दौरान आलोक सिन्हा की मुलाकात दिलीप मिश्रा और अख्तर कटरा से हुई।

इन के माध्यम से ही उसने अबरार मुल्ला से संपर्क किया जिसके जरिए डॉक्टर बंसल की हत्या के लिए उसे और उसके दो साथियों यासिर और मकसूद को सुपारी दी गई। 

एसटीएफ ने बताया कि शोएब पर हत्या के चार मुकदमे पहले से दर्ज हैं। डॉक्टर बंसल की हत्या के अलावा वह प्रतापगढ़ और अमेठी में भी आपराधिक वारदातें कर चुका है।

शूटर के पास से दो जाली पैन और वोटर आईडी कार्ड, मोबाइल व 1900 नकदी बरामद हुई है।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *