Sunday 07 Aug 2022 22:32 PM

Breaking News:

लूट सको तो लूट लो इंटरलॉकिंग आई रे इंटरलॉकिंग आई रे।

लूट सको तो लूट लो इंटरलॉकिंग आई रे इंटरलॉकिंग आई रे।

प्रकाश प्रभाव न्यूज

 रिपोर्ट इसराफील खान

 

लूट सको तो लूट लो इंटरलॉकिंग आई रे इंटरलॉकिंग आई रे।


अमेठी,तिलोई क्षेत्र के सिंहपुर ब्लॉक क्षेत्र के ग्राम पंचायत खरगपुर में इंटरलॉकिंग कार्य में पीली ईंट व घटिया सामग्री लगाने का मामला सामने आया है जहां उच्च अधिकारियों की लापरवाही से ग्राम पंचायत खरगपुर में भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ी इंटरलॉकिंग सड़क, जिम्मेदार बने लापरवाह सिंहपुर ब्लॉक के ग्राम पंचायत खरगपुर में लाखों की लागत से बनाई जा रही इंटरलॉकिंग रोड भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई है। इंटरलॉकिंग रोड के निर्माण कार्य में खुलेआम मानकों की धज्जियां उड़ाई जा रही है, तो वहीं मानकों की दुहाई देने वाले जिम्मेदार इस ओर जानबूझ कर अनभिज्ञ व लापरवाह बने हुए हैं।


खरगपुर गांव में मनरेगा निधि से लाखों रुपए की लागत से इंटरलॉकिंग रोड का निर्माण ग्राम प्रधान द्वारा कराया जा रहा है, जिसमें हर स्तर पर मानकों की अनदेखी की जा रही है। इंटरलॉकिंग रोड के निर्माण में बनाई जा रही बॉक्सिंग में खुलेआम पीली ईंटों का प्रयोग किया जा रहा है, और जुडाई में भी भारी मात्रा में बालू का प्रयोग किया जा रहा है और इंटरलॉकिंग रोड के नीचे पीलीं ईंटों की गिट्टी की कुटाई कराई जा रही है। जो मानकों के साथ खिलवाड़ है। कुल मिलाकर उक्त गांव में बन रहे इंटरलॉकिंग रोड के निर्माण में हर स्तर पर मानक विहीन कार्य कराकर बड़ी धांधली की जा रही है और सरकारी पैसों का दुरूपयोग किया जा रहा है।


वहीं पंचायत सचिव से लेकर ब्लॉक के जिम्मेदार अधिकारी इसको लेकर लापरवाह बनें हुए हैं और निर्माण कार्य की मानटरिंग नहीं की जा रही है। परिणाम स्वरूप इंटरलॉकिंग रोड के निर्माण में जमकर धांधली की जा रही है, शासन की मंशा के विपरीत है। कुल मिलाकर मानकों की दुहाई देने वाले ब्लॉक के अधिकारी इस ओर जानबूझकर नजर अंदाज बने हुए है जैसे उन्हें कुछ मालूम ही नहीं है। फिलहाल अब देखना यह होंगा कि मामले में कोई कार्रवाई की जाती है कि नहीं।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *