Friday 14 May 2021 16:40 PM

Breaking News:

सुप्रीम कोर्ट ने वसीम रिजवी पर 50,000 रुपये का ठोका जुर्माना, याचिका को तुच्छ मानते हुए किया निरस्त

सुप्रीम कोर्ट ने वसीम रिजवी पर 50,000 रुपये का ठोका जुर्माना, याचिका को तुच्छ मानते हुए किया निरस्त

लखनऊ ।

सुप्रीम कोर्ट ने वसीम रिजवी पर 50,000 रुपये का ठोका जुर्माना, याचिका को तुच्छ मानते हुए किया निरस्त 

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी उस याचिका को निरस्त कर दिया है, जिसमें रिजवी ने कुरान की 26 आयतों को हटाने की मांग की थी। सुप्रीम कोर्ट ने याचिका तो 'Absolutely Frivolous' यानि तुच्छ मानते हुए वसीम रिजवी पर 50,000 रुपये का जुर्माना भी ठोका है। आपको बता दें कि वसीम रिजवी ने गत 11 मार्च को उच्चतम न्यायालय में एक याचिका दाखिल कर कहा था कि न्यायालय कुरान की 26 आयतों को हटाने के आदेश दे, क्योंकि उनसे आतंकवाद को बढ़ावा मिलता है।

रिजवी के इस कदम की पूरे देश में कड़ी निन्दा की गयी थी। लखनऊ समेत अनेक स्थानों पर विरोध प्रदर्शन किये गये थे। आल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड, दारुल उलूम देवबंद और शिया पर्सनल ला बोर्ड समेत अनेक मुस्लिम तंजीमों ने रिजवी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर सख्त कार्रवाई की मांग की है। उनके खिलाफ बरेली में मुकदमा भी दर्ज हो चुका है। 

सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस आरएफ नरीमन की अगुवाई वाली बेंच ने इस याचिका पर सोमवार को सुनवाई की। सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि मुझे इस एसएलपी के बारे में सारे तथ्य पता हैं। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यह एसएलपी नहीं रिट है और आप अपनी याचिका को लेकर कितने गंभीर हैं। इस पर याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि मदरसों में यह आयतें पढ़ाई जाती हैं, छात्रों को इससे मिसगाइड किया जाता है, यही आयतें पढ़ाकर और समझा कर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आतंकवादी तैयार किए जाते हैं। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यह निराधार याचिका है। कोर्ट ने इसके साथ ही पचास हजार रुपए जुर्माना लगाकर याचिका खारिज कर दी।

कुरान शरीफ पर उंगली उठाने वाली याचिका दायर किये जाने के बाद वसीम रिजवी के परिवार ने उनसे कोई नाता नहीं होने का एलान कर दिया था। रिजवी के छोटे भाई जहीर रिजवी का एक वीडियो वायरल हुआ था , जिसमें वह कह रहे हैं ''वसीम रिजवी से न तो मेरा, न मेरी मां का, न भाई और न ही बहन का कोई ताल्लुक है। कोई भी उनसे सम्बन्ध नहीं रखना चाहता। वह पागल हो गये हैं। उन्हें दीन और इस्लाम से कोई मतलब नहीं है, इसलिये वह इस तरह की बातें बोलते हैं। वह किसी के इशारे पर यह सब बातें कह रहे हैं। कौन उन्हें बहला रहा है, कौन राजनीति कर रहा है, मैं इसमें नहीं पड़ना चाहता।''

उन्होंने कहा ''वसीम रिजवी ने गुनाह-ए-कबीरा (महापाप) किया है। बहरहाल, कुरान की हिफाजत तो अल्लाह करेगा। उसमें से एक भी नुक्ता, ज़ेर, ज़बर नहीं हटाया जा सकता है। कुरान पर पहले भी हमले होते रहे हैं, मगर अल्लाह ने हर बार उसकी हिफाजत की है।''

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *