Thursday 29 Oct 2020 2:00 AM

Breaking News:

इन्वेस्टर्स समिट 2018 होटल बिल घोटाले में एफआईआर की मांग

इन्वेस्टर्स समिट 2018 होटल बिल घोटाले में एफआईआर की मांग

प्रकाश प्रभाव न्यूज़

लखनऊ


इन्वेस्टर्स समिट 2018 होटल बिल घोटाले में एफआईआर की मांग     


एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर ने इन्वेस्टर्स समिट 2018 में अतिथियों को ठहराने के लिए होटल के कमरों की बुकिंग में घोटाले पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेजे अपने पत्र में नूतन ने कहा कि अतिथियों को ठहराने का जिम्मा पर्यटन विभाग को था, जिसमे 03 दिन के लिए 1279 कमरे तथा 54 सूट बुक किये गए।

बाद में इन बुक किये गए कई रूम में कोई व्यक्ति नहीं ठहरा और ये रूम पूरी तरह खाली रहे. इसके बाद भी पर्यटन निदेशालय द्वारा अवैध ढंग से इन सभी रूम का भुगतान किया गया।

इस संबंध में मुख्यमंत्री कार्यालय में शिकायत पर प्रमुख सचिव, पर्यटन ने जाँच करवाई तो यह पाया गया कि अधिकांश होटलों में कोई अतिथि नहीं ठहरा था. ऐसे में इन सभी रूम के लिए भुगतान नहीं किया जा सकता था किन्तु इसके बाद भी पर्यटन विभाग ने इन सभी रूम के लिए लगभग डेढ़ करोड़ रुपये का अवैध भुगतान कर दिया. शासकीय धन के गबन के बाद भी जाँच समिति ने मात्र एक समूह ग कर्मी पारिजात पाण्डेय का ट्रान्सफर करने की संस्तुति की, जबकि यह सरकारी धन के गबन तथा कूटरचित अभिलेख बनाने का आपराधिक कार्य था।

अतः नूतन ने इस मामले में तत्काल एफआईआर दर्ज कर एसआईटी से जाँच करवाने तथा सभी जिम्मेदार अफसरों को निलंबित किये जाने की मांग की है।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *