Sunday 27 Nov 2022 4:00 AM

Breaking News:

मोहनलालगंज में बुखार की चपेट में आने से चार दिन में एक ही मोहल्ले में तीन मौतों से दहला मऊ गांव

मोहनलालगंज में बुखार की चपेट में आने से चार दिन में एक ही मोहल्ले में तीन मौतों से दहला मऊ गांव

मोहनलालगंज में बुखार की चपेट में आने से चार दिन में एक ही मोहल्ले में तीन मौतों से दहला मऊ गांव 

सीएमओ बोले डेंगू से नहीं हुई एक भी मौत

डेंगू से निपटने के लिए नगर पंचायत प्रशासन भी हुआ सक्रिय


स्वास्थ्य विभाग ने मऊ गांव में कैम्प लगाकर शुरू की जांच भरे ब्लड सैंपल


शुक्रवार को डेंगू से मौत के बाद रविवार रात उसी मोहल्ले में दो और की बुखार मौत



मोहनलालगंज, लखनऊ।


रिपोर्ट- सरोज यादव।


मोहनलालगंज नगर पंचायत के मऊ गांव में बीते रविवार रात एक मोहल्ले के रहने वाले दो लोगों की बुखार के कारण मौत हो गई। बुखार से अचानक हुई दो दो मौतों से समूचे गांव में दहशत फैल गई है। क्योंकि दो दिन पूर्व शुक्रवार को इसी मोहल्ले में रहने वाले एक युवक की डेंगू से मौत हो चुकी है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग ने मऊ गांव में हुई तीनों मौतों के पीछे डेंगू होने की बात को सिरे से नकार दिया है। सीएमओ डॉ मनोज अग्रवाल ने स्पष्ट किया है कि मऊ गांव में हुई थी 9 मौतों में एक भी मौत डेंगू से नहीं हुई। वहीं मऊ गांव में एतिहात के तौर पर  सीएचसी अधीक्षक अशोक कुमार के नेतृत्व में मेडिकल टीमों ने कैम्प कर लोगों की जांच व ब्लड सैंपल लेने शुरू कर दिए हैं। वहीं नगर पंचायत प्रशासन ने भी अपनी सक्रियता बढ़ाते हुए समूचे क्षेत्र में फागिंग और एंटी लार्वा के छिड़काव का कार्य शुरू करा दिया है।

आपको बता दें कि मोहनलालगंज के मऊ गांव में तीन दिन पहले शुक्रवार की रात को लखनऊ के नोवा अस्पताल में इलाज के दौरान डेंगू से संक्रमित फहीम कुरैशी नाम के युवक की मौत हो गई थी। परिजनों ने बताया कि बीते रविवार को फहीम को तेज बुखार आने के बाद कंट्रोल न होने पर कस्बे के एक डॉक्टर को दिखाया जांच के बाद डेंगू होने की पुष्टि होने पर डॉक्टर से सलाह और दवाएं लेकर घर चले आए लेकिन बुधवार को अचानक तबीयत बिगड़ने के बाद फहीम को लखनऊ के नोवा अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान शुक्रवार की रात उसकी मौत हो गई। वहीं अभी दो दिन ही बीते थे कि रविवार की रात मऊ गांव के उसी मोहल्ले में बुखार से पीड़ित दो और लोगों की मौत हो जाने से गांव मे दहशत फैल गई। रविवार की रात बुखार से मरने वालों में एक कक्षा नौ की छात्रा 15 वर्षीय रितिका है जिसका इलाज लखनऊ के लोहिया अस्पताल में चल रहा था। जबकि दूसरा उसी मोहल्ले का रहने वाला पच्चीस वर्षीय मजदूर संजय है जिसकी मौत गांव मे ही हो गई। वहीं दूसरी ओर छात्रा की मौत पर परिजनों ने अस्पताल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया है। मोहनलालगंज के मऊ गांव में रहने वाले शत्रोहन ने बताया उसकी 15 वर्षीय बेटी रितिका को बुखार आने पर उसे सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां पर हालत में सुधार न होने पर बेटी को आठ दिन पहले लोहिया अस्पताल रेफर कर दिया गया। जहां पर रविवार को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतका के पिता का आरोप है कि छात्रा के इलाज में अस्पताल प्रशासन द्वारा लापरवाही की गई जिससे उसकी मौत हो गई। वहीं रविवार की रात को इसी गांव के उसी मोहल्ले के रहने वाले लखन के बेटे को संजय को बुखार की शिकायत थी और रविवार की रात अचानक उसकी भी मौत हो गई। बीते दो दिनों के अंतराल में गांव के एक ही मोहल्ले में रहने वाले तीन तीन लोगों की मौत हो जाने से गांव में सनसनी के साथ ही दहशत का माहौल है। वहीं एक साथ हुई तीन मौतों के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने मऊ गांव जाकर पूरे मोहल्ले व आसपास के लोगों के ब्लड सैंपल लेकर लैब को भेजने के साथ लोगों को अपने घर व आस पास साफ सफाई के लिए जागरूक किया गया है। 


नगर पंचायत प्रशासन ने बढ़ाई सक्रियता..


वहीं दूसरी ओर डेंगू और रहस्यमई बुखार की रोकथाम के लिए नगर पंचायत प्रशासन ने भी समूचे नगर पंचायत क्षेत्र में फागिंग मशीनों से फागिंग कराने के साथ ही एंटी लार्वा का छिड़काव वृहद स्तर पर शुरू कर दिया है इसके साथ ही अधिशासी अधिकारी विनय द्विवेदी ने नगर पंचायत वासियों से अपने घर व आसपास के इलाके में साफ सफाई का ध्यान रखने और आवश्यकता पड़ने पर तत्काल नगर पंचायत को सूचना देने की अपील की है।


क्या कहते हैं जिम्मेदार...


मोहनलालगंज के मऊ गांव में बीते 3 दिनों के बीच हुई 3 मौतों के संबंध में सीएमओ डॉ मनोज अग्रवाल ने बताया की तीनों मौतों में एक भी मौत की पुष्टि डेंगू से होना नहीं पाया गया अग्रवाल के मुताबिक रविवार को इलाज के दौरान छात्रा की हुई मौत में छात्रा को 20 दिनों से बुखार था उसे मैंनिजाइटिस डिटेक्ट हुआ था वहीं मऊ गांव में मृतक संजय मजदूर अल्कोहल के सेवन का आदी था अचानक से उसकी मौत हुई है इससे पहले निजी अस्पताल में भर्ती फहीम की मौत के डेट ऑडिट रिपोर्ट में कार्डियक अरेस्ट के कारण मौत होने की बात सामने आई है

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *