Wednesday 20 Jan 2021 5:25 AM

Breaking News:

आखिर जिंदगी की जंग हार गया बोरवेल में गिरा बच्चा

आखिर जिंदगी की जंग हार गया बोरवेल में गिरा बच्चा

(प्रतीकात्मक चित्र) 

prakash prabhaw news

महोबा

आखिर जिंदगी की जंग हार गया बोरवेल में गिरा बच्चा 

यूपी: महोबा जिले में बोरवेल में गिरे बच्चे को कई घंटों तक जारी NDRF और SDRF के बचाव अभियान के बाद बाहर निकाला गया।  बच्चे के शरीर में किसी भी तरह की मूवमेंट के न चलते उसे जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।


उत्तर प्रदेश के महोबा जनपद के कुलपहाड़ क्षेत्र स्थित बुधौरा गांव में 30 फीट खुले बोरवेल में गिरे चार साल के बच्‍चे को 20 घंटे के बाद एनडीआरएफ (NDRF) और एसडीआरएफ (SDRF) की टीम ने बाहर निकाल लिया है लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका।जिला अस्पताल में डॉक्टरों ने घनेंद्र को मृत घोषित कर दिया। सीएमओ ने बताया कि बच्चे को मृत अवस्था में अस्पताल लाया गया था


आपको बताते चले कि बुधवार को 1 बजे के करीब 4 साल का घनेंद्र खेलते वक्त बोरवेल में गिर गया था। इसकी सूचना पर गांव में हड़कंप मच गया था । सूचना पुलिस और जिला प्रशासन को मिली तो रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया। पहले फायर ब्रिगेड की टीम ने जेसीबी मशीनों के माध्यम से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया इसके बाद लखनऊ से एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम बुलाई गई  रात लगभग 11 बजे एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम ने ऑपरेशन शुरू किया इस बीच पाइप के माध्यम से ऑक्सीजन की सप्लाई की जा रही थी


जिलाधिकारी सत्येंद्र कुमार के मुताबिक महोबा के कुलपहाड़ क्षेत्र स्थित बुधौरा गांव के भागीरथ कुशवाहा अपनी पत्‍नी के साथ गेहूं के फसल की सिंचाई कर रहे थे, तभी उनका चार साल का बेटा धनेंद्र उर्फ बाबू खेत में खुले बोरवेल में गिर गया। घटना करीब दिन के ढाई बजे की है। इस घटना की सूचना मिलने के बाद गांव के लोग मौके पहुंचे और फिर पुलिस को सूचना दी गई। तब से दमकल और स्वास्थ्य विभाग का ऑपरेशन जारी था। रात में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम ने मोर्चा संभाला

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *