Thursday 04 Mar 2021 23:28 PM

Breaking News:

जनपद में 25 नवनियुक्त आयुर्वेद/होम्योपैथिक चिकित्सक को वितरित किए गए पदस्थापना नियुक्ति पत्र

जनपद में 25 नवनियुक्त आयुर्वेद/होम्योपैथिक चिकित्सक को वितरित किए गए पदस्थापना नियुक्ति पत्र

जनपद में 25 नवनियुक्त आयुर्वेद/होम्योपैथिक चिकित्सक को वितरित किए गए पदस्थापना नियुक्ति पत्र




आयुर्वेद, यूनानी होम्योपैथिक आदि सहित आयुष मिशन से जुड़ी चिकित्सा पद्धति को भली-भांति जाने और दिलाये लाभ




रायबरेली ।।

उत्तर प्रदेश के मा0 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने लखनऊ से निष्पक्ष एवं पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया के माध्यम से लोक सेवा आयोग उत्तर प्रदेश प्रयागराज द्वारा आयुष विभाग के नवचयनित 1065 आयुर्वेद/होम्योपैथिक चिकित्सा अधिकारियों को पदस्थापना व नियुक्ति पत्र वितरण तथा संवाद एवं 142 योग वेलनेस सेंटर्स का उद्घाटन तथा उत्तर प्रदेश आयुष टेलीमेडिसिन का वर्चुअल माध्यम से शुभारंभ करते हुए अपने कर कमलों से नवनियुक्त आयुर्वेद/होम्योपैथिक चिकित्सा को पदस्थापना व नियुक्ति पत्र वितरित किया। इसी क्रम में जनपद रायबरेली में एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह, विधायक बछरावा राम नरेश रावत, विधायक सलोन दल बहादुर कोरी व जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव ने कलेक्ट्रेट स्थित एनआईसी में मा0 मुख्यमंत्री जी द्वारा वीडियों काॅन्फ्रंेसिंग के माध्यम से लाइव प्रसारण को देखा।

मुख्यमंत्री जी ने वीडियों क्रान्फेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में आयुर्वेद/होम्योपैथिक के पद पर नवनियुक्त आयुर्वेद/होम्योपैथिक चिकित्सा अधिकारियों को शुभकामनाए दी। उन्होंने कहा कि आयुर्वेद, यूनानी होम्योपैथिक आदि सहित आयुष मिशन से जुड़ी चिकित्सा पद्धति को भली-भांति जाने और उसका लाभ दिलाये। देश के प्रधानमंत्री ने आयुष मिशन को बढ़ाने में सबसे अधिक योगदान दिया है दुनिया में जब जन की आफत पड़ी थी तब पूरे विश्व से तुलसी, हल्दी आदि जड़ी बुटियों की मांग भारत से की जा रही थी। इस दौरान आयुष पद्धति द्वारा विशेष कर काढ़ा आदि के माध्यम से लोगों की इम्यूनिटि पावर को बढ़ा कर कोविड-19 कोरोना पर विजय प्राप्त करने के साथ ही कार्य किये जा रहे है। उन्होंने बताया कि कुछ चिकित्सक आयुष को आपरेशन करने पर आपत्तियां कर रहे है। जबकि यह गलत है पहला धरती का सर्जन आयुष का ही था। मिशन आयुवैद की आयुवैदिक एवं यूनानी होम्योपैथिक सिद्धा आदि परमपरागत चिकित्सा रही है। हम नये शोध न करने के कारण ही एलोपैथिक की तुलना में पिछड़ गये है अब नये शोध की ओर बढ़ना होगा। उन्होंने कहा सीखने की कोई उम्र नही होती है व्यक्ति किसी भी उम्र में सीख सकता है। औषद्यीय गुण सभी पेड़, पौधो सहित जीव-जन्तुओं में भी पाये जाते है। जो हमारे ईद-गिर्द होते हुए भी जानते नही है हमे उन्हें जानने की जरूरत है। जैसे पिपल, बरगद, तुलसी, हल्दी आदि जड़ी बुटियों में औषद्यीय गुण है उसी प्रकार गौवंश से गोबर, गौमूत्र आदि खाद व दवाये बनाने में काम आ रहा है।

इसी क्रम में जनपद रायबरेली में नवनियुक्त आयुर्वेद/होम्योपैथिक चिकित्सा अधिकारियों को कलेक्ट्रेट के एनआईसी सभागार में जनपद के 13 आयुर्वेद व 12 होम्योपैथिक चिकित्सक अधिकारियों को पदस्थापना व नियुक्ति पत्र एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह, विधायक बछरावा राम नरेश रावत, विधायक सलोन दल बहादुर कोरी व जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव ने नियुक्ति व पदस्थापना पत्र वितरित किया।

इस दौरान एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह, विधायक बछरावा राम नरेश रावत, विधायक सलोन दल बहादुर कोरी व जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव ने नवनियुक्त आयुर्वेद/होम्योपैथिक अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि पूरी लगन व ईमानदारी के आयुष की दवाओं आदि से इलाज करे तथा मरीजों को राहत दिलाये इसी के साथ उन्होंने नवनियुक्त आयुष चिकित्सकों को उनके उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी।

इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल, जिला आयुवैदिक चिकित्साधिकारी डाॅ0 अरूण कुरील, डीडी सूचना प्रमोद कुमार, सूचना विभाग के मो0 राशिद रियाज अंसारी सहित नवनियुक्त आयुर्वेद/होम्योपैथिक चिकित्सक उपस्थित थे।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *