Sunday 27 Nov 2022 4:31 AM

Breaking News:

ग्रेजुएट राम लीला कमेटी गढ़वा में पांच दिवसीय रामलीला प्रारम्भ।

ग्रेजुएट राम लीला कमेटी गढ़वा में पांच दिवसीय रामलीला  प्रारम्भ।

प्रकाश प्रभाव न्यूज़

दिनाँक- 21-11-2022

रिपोर्ट-अनिल कुमार

ग्रेजुएट राम लीला कमेटी गढ़वा में पांच दिवसीय रामलीला  प्रारम्भ।

कौशाम्बी। ग्रेजुएट रामलीला कमेटी गढ़वा में राम लीला पांच दिवासीय प्रारंभ हो गई  रामलीला के महंत कुलदीप दुबे ने बताया की चित्रकूट ,बांदा,फतेहपुर, चित्रकूट सहित कई जनपद के कलाकारों द्वारा मंचन किया जाता है  वरिष्ठ व्यास पंडित पारस नाथ दुबे बताया की यहां रामलीला लगभग 40 वर्षों से होती  है जिसके सहयोग में ग्रामीण के साथ कोसम इनाम प्रधान प्रतिनिधि शिवपूजन यादव, पंडित विनोद दुबे   बीरेंद्र केशरवानी राजू केशरवानी,रोहित यादव, मदन मोहन तिवारी कोसम इनाम और कोसम इनाम के सम्मानित जनता जनार्दन सराहनीय  योगदान और सहयोग रहता है। रविवार को धनुष यज्ञ का मंचन देख जय श्री राम का उद्घोष गूंजा क्षेत्र।

नाथ शंभूधन भंज निहारा हुईहैं कोऊ एक दास तुम्हारा।

 सोमवार को रात 9 बजे से शुरू हुआ परशुराम लक्ष्मण संवाद  देख दंग रह गए रामभक्त ऐसा लग रहा था की त्रेतायुग में भक्तो चले गए बैठने की भी व्यवस्था जनकपुरी जैसी की गई थी ।

आज राम वन गमन और गुहराज का होगा मंचन

रामलीला के पांचवा दिन भगवान राम वनगमन  के साथ केवट संवाद  और लंकादहन  जैसे का मंचन होगा 

पहली बार दो दिवसीय मेला आज होगा संपन्न।

 ऐतिहासिक स्थल कौशाम्बी में राम लीला के साथ इस वर्ष मेले का भी आयोजन किया जा रहा 21 नवंबर दिन सोमवार और 22 नवंबर दिन मंगलवार को  रामलीला कमेटी के लोग मेला लगवाये  जिससे रामलीला कमेटी के सदस्य सत्य नारायण गुप्ता और मुन्ना केशरवानी ने बताया की  आसपास के गांवों में मेला लगता है लेकिन हमारे गांव गढ़वा में मेला नही लगता इस लिए मेले का विचार सराहनीय है वही मेला कमेटी के वरिष्ठ आयोजक शिवपूजन प्रधान प्रतिनिधि ने बताया की दुकानदारों को लाइट और सुरक्षा के पूरे इंतजाम किए गए है और किसी प्रकार का दुकानदारों से शुल्क नहीं लिया जायेगा मेले की बात सुन जनता में खुशी और कौतूहल बना रहा वहीं बच्चे बूढ़े और महिलाओं ने जमकर खूब खरीददारी किया और गांव में पहली बार मेला लगने से चर्चा का विषय भी बना।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *