Sunday 26 Jun 2022 13:26 PM

योग हमारे शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य के लिए वरदान है- वीरेंद्र तिवारी।

योग हमारे शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य के लिए वरदान है- वीरेंद्र तिवारी।

PPN NEWS

योग हमारे शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य के लिए वरदान है- वीरेंद्र तिवारी।


करो योग.. रहो निरोग का दिया मूल मंत्र


लखनऊ।


रिपोर्ट- नवीन वर्मा।


अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त यूपीसीएलडीएफ के चेयरमैन वीरेंद्र कुमार तिवारी ने मोहनलालगंज ब्लॉक के सिसेंडी कस्बे के शक्ति केन्द्र में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित नागरिकों के साथ योग करने के दौरान कहा कि योग सदियों से हमारी संस्कृति एवं जीवन का अभिन्न अंग रहा है यह शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य के लिए वरदान की तरह है।


योग का अभ्यास अत्यंत महत्वपूर्ण है। योग भारत की प्राचीन परम्परा का एक अमूल्य उपहार है यह दिमाग और शरीर की एकता का प्रतीक है, मनुष्य और प्रकृति के बीच सामंजस्य है, विचार, संयम और पूर्ति प्रदान करने वाला है तथा स्वास्थ्य और भलाई के लिए एक समग्र दृष्टिकोण को भी प्रदान करने वाला है, योग से शारीरिक और मानसिक ऊर्जा में वृद्धि होती है, शरीर को निरोग रखने के लिए योग अति आवश्यक है।


श्री तिवारी ने बताया कि हजारों वर्षो से भारत योग-साधना का प्रमुख केन्द्र रहा है, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने योग के महत्व को दुनिया के देशों को समझाते हुए पहली बार 27 सितंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस मनाये जाने का प्रस्ताव रखा, जिसके परिणाम स्वरूप संयुक्त राष्ट्र के 177 सदस्य देशों ने जिसे 90 दिनों के अन्दर पूर्ण बहुमत से पारित करके 21 जून 2015 को पहले अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाये जाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि योग का मूल मंत्र है “करो योग रहो निरोग”, योग से मनुष्य स्वस्थ रहता है और लम्बे जीवन को प्राप्त करता है, इस वर्ष हम सभी 8वां विश्व योग दिवस मना रहे हैं इस दिन विश्व के अधिकांश देशों में योग के महत्व को समझाने व जागरूकता फैलाने के लिए कई तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है।


श्री तिवारी ने कहा कि नियमित योग करने से मन शांत होता है आज की तेज दिनचर्या से बढ़ते मानसिक तनाव को योग समाप्त करके मनुष्य के जीवन में सकारात्मक प्रभाव डालता है साथ ही ब्लडप्रेशर,शुगर, मोटापा, लिवर, आखों, कैंसर, किडनी, अनिद्रा, जोड़ों के दर्द जैसे असाध्य रोगों को जड़ से समाप्त करने का काम योग करता है।


उन्होंने कहा कि विश्व के देशों ने भारतीय योग और आयुर्वेद के महत्व को तब समझा जब इस सदी की सबसे विनाशकारी बीमारी कोरोना जिसने करोड़ों लोगों को अपना निवाला बनाया परंतु जिन लोगों ने योग और भारतीय आयुर्वेद को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बना कर रखा था उन्हें इस बीमारी से ज्यादा नुकसान नही हुआ और जिन्हें कोरोना जैसी घातक जानलेवा बीमारी ने घेर लिया था उन लोगों ने योग करके अपनी इम्यूनिटी को मजबूत किया और अपनी जान बचाई।


इस अवसर पर योग गुरु अंकुर अवस्थी, पूर्व विधायक चंद्रा रावत, भाजपा जिला महामंत्री रामलाल वर्मा, मोहनलालगंज के मंडल महमंत्री अंजनी शुक्ला, सिसेंडी गांव के प्रधान प्रतिनिधि राजू जायसवाल, मोहनलालगंज के ए.डी.ओ. पंचायत अशोक कुमार यादव व ए.डी.ओ. कोआपरेटिव प्रदीप कुमार, मोहनलालगंज कोतवाली प्रभारी अखिलेश मिश्रा,पूर्व जिला महामंत्री प्रदीप द्विवेदी, पूर्व मंडल अध्यक्ष डा०अरविंद विश्वास, मंडल उपाध्यक्ष सोनू शुक्ला, दिलीप मिश्रा, राज किशोर शुक्ला, पूर्व प्रधान बच्चू लाल यादव, शिव कुमार गुप्ता, कल्लू शुक्ला, दिलीप शुक्ला सहित नागरिक, भाजपा कार्यकर्ता व अधिकारियों ने भी योग किया।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *