Saturday 06 Mar 2021 4:21 AM

Breaking News:

लीकेज पाइपलाइन से सड़कें गढ्डों में तब्दील, आधे सैकड़े से अधिक हुए चुटहिल

लीकेज पाइपलाइन से सड़कें गढ्डों में तब्दील, आधे सैकड़े से अधिक हुए चुटहिल

पी पी एन न्यूज

लीकेज पाइपलाइन से सड़कें गढ्डों में तब्दील, आधे सैकड़े से अधिक हुए चुटहिल 

(कमलेन्द्र सिंह)

बिंदकी/फतेहपुर

खजुहा कस्बा तहसील मुख्यालय से लगभग 6 किलोमीटर की दूरी पर स्थित प्राचीन नगरी अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा है। प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही के कारण आज यहां की सड़कें लीकेज पाइपलाइन की वजह से गढ्डों में तब्दील हो चुकी है जिसके कारण आएदिन राहगीर चुटहिल होने पर मजबूर हैं। कस्बेवासियों ने जलकल विभाग से लीकेज पाइपलाइन को शीघ्र दुरस्त कराए जाने की मांग कर है।

आपको बता दें कि प्राचीन नगरी खजुहा धीरे धीरे अपना वर्चस्व व इतिहास खोने को मजबूर दिख रहा है। यह कस्बा कभी तहसील हुआ करता था तथा राजा राजवाड़ों का गढ था । परंतु आज यह कस्बा अपनी दुर्दशा को देखकर आंसू बहाने को मजबूर है जबकि जनपद में भाजपा के दो विधायक राज्य मंत्री, केंद्रीय मंत्री सांसद व अन्य सभी विधायक हैं तथा उनकी सत्तापक्ष की सरकार है फिर भी यह कस्बा अपनी पहचान खोता जा रहा है।

जर्जर सड़कें गड्ढों में तब्दील हो गई हैं, जिसमें अब तक न जाने कितने राहगीर चूटहिल हो चुके हैं। जलकल विभाग की लापरवाही के कारण लीकेज पाइपलाइन का पानी सड़कों पर फैल रहा है जिससे सड़कें गड्ढों में तब्दील हो गई है।

परंतु जिम्मेदार अधिकारी कुंभकरणीय की नींद में सोए हुए हैं जिसके वजह से छोटे-मोटे हादसे ‌तो प्रतिदिन होते ही रहते हैं। गौर करने की बात यह है कि यहां पर मुग़ल मार्ग होने के कारण  प्रतिदिन मंत्री से लेकर आला अधिकारियों का आना जाना लगा रहता है इसके बावजूद जलकल विभाग पर ज़रा सा भी प्रसाशनिक अधिकारियों का डर नहीं है।

नगर के संभ्रांत नागरिकों में चमन गुप्ता,अशोक गुप्ता,पंकज पांडेय, राहुल, दिनेश कुमार आदि का कहना है कि कई बार जलकल विभाग से इसकी शिकायत की गई किन्तु अभी तक सुनवाई नहीं कर गई। अगर यह जर्जर सड़कें जल्द नहीं बनवाई गई तो सभी आमरण अनशन पर बैठ कर धरना देंगे जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी प्रशासनिक  अधिकारियों की होगी।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *