Friday 04 Dec 2020 22:26 PM

Breaking News:

नायब तहसीलदार ने लांघ दी पद की सीमाएं, किसान को लाठी डंडो से पीटा

नायब तहसीलदार ने लांघ दी पद की सीमाएं, किसान को लाठी डंडो से पीटा

पीलीभीत न्यूज


नायब तहसीलदार ने लांघ दी पद की सीमाएं, किसान को लाठी डंडो से पीटा


पीलीभीत(नीलेश चतुर्वेदी): कानून का पाठ पढ़ाने बाले अधिकारी ही जब कानून अपने हाँथ में लेने लगे तो संविधान की धज्जियां तो उड़ना तय है। अवाम को गुंडों से नही अब अधिकारियों से खतरा उत्पन्न हो गया है।

साफ स्वच्छ योगी राज को गुंडाराज में तब्दील करने की नापाक कोशिश करने में जुटे नायब तहसीलदार अमरिया ने एक गरीब की खुद लाठी-डंडों से इस कदर तोड़फोड़ की, के गरीब बेचारा बुरी तरह से चोटिल हो गया।गरीब का कसूर सिर्फ इतना था कि वह अपनी पुश्तैनी जमीन में झोपड़ी डालकर रह रहा था।

ग्रामीणों ने संविधान की धज्जियां उड़ा रहे नायब तहसीलदार सहित साथ में पहुंची पुलिस फोर्स और गरीब के उजड़ते आशियाने की वीडियो बना ली और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। उधर पीड़ित ने कानून का मजाक बनाने बाले नायब तहसीलदार सहित अन्य साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के लिए एसपी को पत्र दिया है।

आपको बताते चले थाना सुनगढ़ी क्षेत्र के गाँव भंगा मोहम्मदगंज निवासी रामऔतार,कोमिल,जसवंत और सतीश ने संयुक्त रूप से एसपी जय प्रकाश को दिए शिकायती पत्र में कहा है कि वह अपनी पुश्तैनी जमीन पर झोपड़ीनुमा कच्चा घर बनाकर बर्षों से अपने परिवार के साथ जीवन व्यतीत कर रहे हैं।

कल समय करीब शाम 5 बजे अपने उच्च अधिकारी का आदेश प्राप्त किये बिना , अमरिया तहसील के नायब तहसीलदार शेरबहादुर सिंह पुलिस बल सहित ग्राम भंगा मोहम्मदगंज पहुंचे और योजनानुसार गाँव के प्रधानपति मूलचंद के अलाबा नरायन लाल,छत्रपाल,खेमपाल,नेमचंद को साथ लेकर उस जगह पहुंचे ,जहां पीड़ित परिवार झोपड़ीनुमा घर बनाकर बर्षों से रहते चले आ रहे हैं।

नायब तहसीलदार शेरबहादुर सिंह के इशारे पर प्रधानपति मूलचंद सहित साथ में पहुंचे नरायन लाल,छत्रपाल,खेमपाल,नेमचंद ने पीड़ितों के नल तोड़कर झोपड़ीनुमा घर उजाड़ दिए और नायब तहसीलदार शेरबहादुर सिंह के संरक्षण में गंदी-गंदी गालियां देकर पीड़ितों की लात-घूंसों से पिटाई करना शुरू कर दिया।

पीड़ितों ने जब विरोध किया तो नायब तहसीलदार शेरबहादुर सिंह ने पद की गरिमा भूलकर अधिकारों की सीमा लांघ दी और खुद ही अशांति का माहौल उत्पन्न कर दिया पीड़ित राम औतार के पुत्र अमित की लाठी से बुरी तरह पिटाई कर दी , जिसके कारण वह बुरी तरह चोटिल हो गया।

शांति व्यवस्था के लिए मौके पर साथ गई पुलिस भी नायब तहसीलदार के इस कारनामे को देखकर दंग रह गई। नायब तहसीलदार के पद का रसूख कहें या फिर शेरबहादुर सिंह की गुंडई , उनका कारनामा यहीं नही रुका , उन्होंने साथ आये विशेष लोगों द्वारा पीड़ितों के धान की पौध को भी ट्रैक्टर चलवाकर पूरी तरह नष्ट करवा दिया।

नायब तहसीलदार शेरबहादुर सिंह की गुंडई ग्रामीण द्वारा बनाई गई वीडियो में कैद हो गई और जमकर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इस बात से यह स्पष्ट हो ही जाता है कि नायब तहसीलदार शेरबहादुर सिंह पद के दायित्वों का निर्वहन करने के लिए नही बल्कि निजी स्वार्थ पूर्ति करने के लिए वायरल हो रही वीडियो में कैद कारनामे को अंजाम देने पहुंचे थे।

जी हां तभी तो उन्होंने कानून अपने हाँथ में लेकर संविधान की धज्जियां उड़ा डाली। पीड़ितों ने घटना की जानकारी सुनगढ़ी थाना पुलिस को दी। पीड़ितों ने संयुक्त रूप से मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर नायब तहसीलदार शेरबहादुर सिंह के खिलाफ कार्यवाही करने सहित एसपी को पत्र देकर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की मांग की है। तो वही इस मामले में डीएम वैभव श्रीवास्तव से फ़ोन पर संपर्क करने की कोशिश की तो कोई बात नहीं हो पाई है।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *