Thursday 13 May 2021 9:40 AM

Breaking News:

उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी की ओर से संयोजित ऑनलाइन कत्थक

उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी की ओर से संयोजित ऑनलाइन कत्थक

Prakash Prabhaw News

लखनऊ।

अमित श्रीवास्तव की रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी की ओर से संयोजित ऑनलाइन कत्थक


16 जून तक 18 संभागों के 163 प्रतियोगी करेंगी प्रतिभाग


लखनऊ, 10 जून। उत्तर प्रदेष संगीत नाटक अकादमी की ओर से संयोजित आॅनलाइन कथक, लोकसंगीत, रूपसज्जा के बाद कोविड-19 के कारण आज से प्रतिभागियों द्वारा भेजी रिकाॅर्डेड क्लिप्स के आधार पर प्रादेषिक संगीत प्रतियोगिताएं भी प्रारम्भ हो गई। विपिनखण्ड गोमतीनगर स्थित अकादमी भवन में प्रतियोगिताओं के उद्घाटन अवसर पर अकादमी अध्यक्ष डा.पूर्णिमा पाण्डे ने निर्णायकों का स्वागत पुष्पगुच्छ प्रदान कर किया। 

आज पहले दिन शास्त्रीय रागों पर आधारित ख्याल तराना प्रतियोगिता के अंतर्गत बाल, किशोर तथा युवा वर्ग के प्रतिभागियों की रिकार्डेड वीडियो क्लिप्स स्क्रीन पर देखी गईं। किशोर वर्ग के 24 प्रतिभागियों में झांसी संभाग की प्रतियोगी कल्याणी की वीडियो क्लिप राग पूरिया धनाश्री में बंदिश- ‘बलि बलि जाऊं......’ विलम्बित, द्रुत ख्याल में थी और अंत में तराने की प्रस्तुति थी। इसी तरह प्रयागराज के स्नेह आशीष दुबे की क्लिप राग बागेश्री में रचना- ‘बलमा मोरी तोरी.....’ पर आधारित थी। आगरा संभाग के प्रतियोगी अमनदेव शर्मा ने अपनी क्लिप राग श्यामकली पर तो अलीगढ़ की साक्षी ने साग मारूं विहाग पर तैयार कर भेजी थी। इसके अलावा इस वर्ग में बरेली के कार्तिक सक्सेना व मोहक दत्ता, अयोध्या के साकेत रात तिवारी, मऊ के दुर्गेश यादव, बांदी की अंजलि वर्मा, गोरखपुर के प्रियांशु व बरेली की शिवांगी आदि की क्लिप निर्णायकों ने देखी। युवा वर्ग में 13 प्रतियोगियों में प्रयागराज के एकांश, आगरा की चारू रानी, लखनऊ के उसमीत सिंह, मेरठ के पवनेश गौड़, मऊ के बृजेश चैहान, वाराणसी की पूजा बसाख व अलंकृता राय, बरेली के सिद्धार्थ नेगी, बस्ती की सविता पाण्डेय, गोरखपुर के अरुणकुमार पासवान व अलीगढ़ की राधिका देवी की ख्याल-तराने की प्रस्तुतियों की क्लिप शामिल थी। बाल वर्ग के 22 प्रतियोगियों में वाराणसी की वैदेही, गोरखपुर के पुष्कर, बस्ती की इशिता व वाराणसी की कंचन की शास्त्रीय प्रस्तुतियों भरी रिकार्डेड क्लिप शामिल थीं। 

अकादमी के सचिव तरुण राज ने बताया कि प्रदेश भर के तीनों वर्गों के प्रतियोगियों के लिए सूबे के सभी 18 संभागों में प्रतियोगिता का पहला चरण लाॅकडाउन से बहुत पहले इस वर्ष जनवरी में ही पूर्ण हो गया था। इनमें 163 प्रतिभागी अपने-अपने संभाग में प्रथम थे, जिन्हें मार्च में दूसरे और अंतिम चरण की प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग करना था। लाॅकडाउन के कारण मार्च में प्रस्तावित राज्य स्तरीय प्रतियोगिताएं टल गईं, जिन्हें अब निर्णायकों के सम्मुख रिकार्डेड क्लिप्स प्रस्तुति के प्रारूप में संयोजित किया जा रहा है। अकादमी स्टूडियो में राज्य स्तरीय संगीत प्रतियोगिताएं 16 जून तक चलेंगी। इस दौरान सामाजिक दूरी आदि के नियमों का पूरा पालन किया जा रहा है। प्रतियोगिता संयोजक रेनू श्रीवास्तव ने बताया कि आज की प्रतियोगिता प्रस्तुतियों में कुल 59 प्रतिभागी थे। इनमें से पांच प्रतिभागी अस्वस्थता व अन्य कारणों से प्रतियोगिता के लिये क्लिप नहीं भेज पाए। आज के निर्णायकों में अमित मुखर्जी, मंजुला पंत व धनन्जय मोघे शामिल थे। कल ध्रुपद-धमार व ठुमरी-दादरा की प्रतियोगिताएं चलेंगी। 

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *