Wednesday 16 Jun 2021 12:38 PM

पुलिस का खौफ हुआ खत्म, काम कराने के बहाने बुलाकर 5 लड़कों को दी तालिबानी सज़ा,

पुलिस का खौफ हुआ खत्म, काम कराने के बहाने बुलाकर 5 लड़कों को दी तालिबानी सज़ा,

crime news, apradh samachar
प्रकाश प्रभाव न्यूज
ब्यूरो इसराफील खान

पुलिस का खौफ हुआ खत्म काम कराने के बहाने बुलाकर 5 लड़कों को दी तालिबानी सज़ा।


अमेठी/मुंशी गंज थाना क्षेत्र का एक मामला प्रकाश में आया है जहां आए दिन दबंगों द्वारा गरीब व मजबूरों को दिनदहाड़े बेखौफ होकर मारा पीटा जा रहा है और पुलिस में शिकायत करने पर दोबारा फिर पीटे जाने की धमकी दी जाती है।

अभी हाल में ही बीते 3 जून को अमेठी कोतवाली क्षेत्र के लाला का पुरवा गांव में दबंगों ने राम भरत श्रीवास्तव को पेड़ में बांधकर जमकर पीटा था इनकी इलाज के दौरान मौत हो गई थी तो वही मोहनगंज कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत हंसवा गांव में गुरबख्श को फिर से लौटते समय घेरकर दबंगों ने मारकर मरणासन्न कर दिया था जिनकी इलाज के लिए ले जाते समय रास्ते में मौत हो गई वहीं बीते 5 जून को मुंशीगंज कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत मुसवा पुर चौराहे पर दबंगों ने बंदोईया गांव के 5 दलितों को पहले बुलाया और फिर तालिबानी सजा सुनाते हुए हाथ बांधकर मुर्गे की तरह चलाते हुए पीछे से डंडों से पीटा।

घटना क्रम कुछ इस प्रकार से है कि बीते 5 जून को मुसवा पुर चौराहे पर स्थित बुढ़ऊ बाबा धाम के पास गांव वालों ने एक भंडारे का आयोजन किया था। आयोजन में ही रामदैपुर निवासी बशीर अहमद के लड़के की साइकिल चोरी हो गई। चोरी के खुलासे के लिए मुसवा पुर के आधा दर्जन दबंगों ने बंदोइया गांव के 5 दलित लड़कों को काम करने के बहाने बुलाया, लड़कों के वहां पहुंचते ही दबंगों ने उनसे चोरी गई साइकिल के एवज में 700 – 700 भरपाई किए जाने के लिए कहा।

अभी बात हो ही रही थी कि दबंगों ने तालिबानी अंदाज में पांचो लड़कों का हाथ बांधकर उन्हें मुर्गे की तरह चलने के लिए कहा और पीछे से दबंगों ने डंडे भी बरसाने शुरू कर दिए। इस दौरान मौके पर किसी ने इसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *