Wednesday 16 Jun 2021 13:59 PM

सिपाही को था अपनी जान का खतरा, हत्या के बाद किया सरेंडर

सिपाही को था अपनी जान का खतरा, हत्या के बाद किया सरेंडर

क्राइम न्यूज़ , अपराध समाचार 

प्रकाश प्रभाव न्यूज़ 

लखनऊ 

रिपोर्ट मोनू सफी 

सिपाही को था अपनी जान का खतरा, हत्या के बाद किया सरेंडर


लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बुधवार का दिन अपराध से भरा हुआ था. पहली घटना मड़ियांव अंतर्गत उमर भारी गांव में एक किसान की बांके से काटकर निर्मम हत्या कर दी.

दूसरी बड़ी घटना सुशांत गोल्फ सिटी अंतर्गत बेखौफ बदमाशों ने पैर में गोली मारकर युवक से लूटी बलेनो गाड़ी।

तीसरी बड़ी घटना विभूतिखंड अंतर्गत डॉ राम मनोहर लोहिया अस्पताल के आवासीय परिसर गेट के पास एक पुलिसकर्मी ने सीतापुर निवासी एक युवक को गोली मारी जिससे मौके पर ही मौत हो गयी. 

तीनों बड़ी घटनाओं की पुलिस छानबीन में जुटी है.

आपको बताते चले कि लखनऊ में एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने युवक की गोली मारकर हत्या कर दी. कॉन्स्टेबल द्वारा हत्या के बाद महकमे में हड़कंप मच गया. घटना विभूतिखंड थाना क्षेत्र के लोहिया आवासीय परिसर के पास की है. प्राप्त जानकारी के अनुसार आशीष मिश्रा नाम के कॉन्स्टेबल ने बुधवार शाम लगभग साढ़े पांच बजे इस वारदात को अंजाम दिया. आरोपी ने प्रवीण नाम के युवक के सिर में तमंचा सटाकर उसे गोली मार दी और बाद में थाने जाकर आत्म सरेंडर कर दिया.

जैसे ही इस अपराध की सूचना पुलिस विभाग को मिली डीसीपी, एसीपी, इंस्पेक्टर समेत कई अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए  और मौके का मुआयना करने लगे. लखनऊ के पुलिस कमिश्नर डी.के ठाकुर के मुताबिक अभी हत्या किए जाने का कोई पुख्ता कारण निकल कर सामने नहीं आया है. आरोपी सिपाही ने पूछताछ में बताया कि उसे प्रवीण से जान का खतरा था इसलिए उसने गोली मारकर उसकी हत्या कर दी. पुलिस मामला दर्ज कर जांच कर रही है.

बताया जा रहा है कि बदायूं जिला का निवासी कॉन्स्टेबल आशीष मिश्रा वर्ष 2016 बैच का है, वर्तमान में वो सीतापुर में तैनात था. आरोपी 302 के मुलजिम ध्रुव सिंह की सुरक्षा में तैनात था. ध्रुव सिंह का पुलिस निगरानी में लोहिया अस्पताल में इलाज चल रहा है इसलिए वो भी लखनऊ आया हुआ था. मृतक प्रवीण ध्रुव सिंह का बेटा था.

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *