Monday 23 May 2022 14:21 PM

ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट के फर्जी वर्चुअल अकाउंट बनाकर ठगी करने वाले दो साइबर ठग हुए गिरफ्तार

ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट के फर्जी वर्चुअल अकाउंट बनाकर ठगी करने वाले दो साइबर ठग हुए गिरफ्तार

crime news, apradh samachar

prakash prabhaw news

नोएडा 

Report-Vikram Pandey

ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट के फर्जी वर्चुअल अकाउंट बनाकर ठगी करने वाले दो साइबर ठग हुए गिरफ्तार


नोएडा के सेक्टर 36 स्थित साइबर क्राइम पुलिस ने ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट की फर्जी खाते बनाकर ठगी करने वाले दो साइबर ठगों को गिरफ्तार किया है। इन दोनो साइबर ठगों ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइटों को करीब दो करोड़ का चूना लगा चुके हैं।पुलिस ने इनके पास से तीन मोबाइल फोन बरामद किए हैं वही बैंक खाते में जमा 26 लाख रुपए को फ्रीज कर दिया गया है पुलिस ने दोनों आरोपी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।  


यह तस्वीरें अनिल उर्फ आलोक और सचिन की हैं, हरियाणा के हिसार जिले के उकलाना में अनिल उर्फ आलोक की मोबाइल की दुकान है और सचिन की गारमेंट की दुकान है। आलोक बीएससी, जबकि सचिन 12वीं पास है। नोएडा साइबर थाना प्रभारी विनोद पांडे ने बताया कि पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि जब करोना काल में दोनों का व्यापार ठप हो गया तब इन दोनों  ने अपने एक साथी अनिल नैन जोकि अमेजॉन का डिलीवरी एजेंट उसके साथ मिलकर ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट को निशाना बनाते हुए ठगी का कारोबार शुरू कर दिया। 


साइबर थाना प्रभारी विनोद पांडे ने बताया कि आरोपियों ने पूछताछ के दौरान बताया कि वह एक मोबाइल पर 100 वर्चुअल खाते बनाते थे और यह जानकारी उन्होंने यूट्यूब पर सर्च कर हासिल की थी। फिर उन अकाउंट से विभिन्न इलेक्ट्रानिक प्रोडक्ट के कोड लेकर उनका प्रीपेड आर्डर करते थे। उसके बाद दिए फर्जी पतों से उन आर्डर को लेकर उन्हें कम कीमतों पर दिल्ली की गफ्फार मार्केट, करोल बाग व दिल्ली-एनसीआर की अन्य दुकानों में बेच देते थे।


इनका एक अन्य साथी अनिल नैन निवासी जिला हिसार अमेजन डिलीवरी एजेंट के साथ मिलकर फर्जी तरीके से पिक-अप डन दिखा देता था। इसके बाद आरोपित सारा पैसा अपने खातों में वापस ले लेते थे। इन आरोपियों ने जनवरी 2021 से अब तक दो करोड़ रुपए की ठगी कर चुके हैं पुलिस का कहना है कि इस गिरोह में 8 से 10 अन्य लोग शामिल है जिनकी तलाश की जा रही है।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *