Monday 23 May 2022 14:41 PM

मार्च और अप्रैल में मिलेगा सांप्रदायिक सौहार्द का नजारा

मार्च और अप्रैल में मिलेगा सांप्रदायिक सौहार्द का नजारा

पीलीभीत न्यूज

रिपोर्ट:- नीलेश चतुर्वेदी


मार्च और अप्रैल में मिलेगा सांप्रदायिक सौहार्द का नजारा

पीलीभीत। लंबे समय के बाद मार्च और अप्रैल में सांप्रदायिक सौहार्द का नजारा देखने को मिलेगा। इस दौरान हिंदू, मुस्लिम, सिख और ईसाई सभी धर्म के त्योहारों का संयोग बन रहा है। हिंदू समुदाय जहां मार्च में रंग बिरंगी होली खेलेगा तो वहीं मुस्लिम शब-ए-बरात मनाएंगे। वहीं ईसाई समुदाय पाम संडे मनाएगा। इधर अप्रैल में रमजान और चैत्र नवरात्र मनाया जाएगा। 13 अप्रैल को चैत्र नवरात्र और रमजान एक साथ शुरू हो रहा है, तो वहीं 14 अप्रैल को सिख समुदाय वैशाखी पर्व मनाएगा। हालांकि सांप्रदायिक सौहार्द के हिसाब से बेहद अच्छा बताया जा रहा है। 

रंगों के पर्व होली की शुरुआत रंगभरी एकादशी से हो जाएगी। 28 मार्च को होलिका दहन होगा और 29 मार्च को ही मुस्लिम समुदाय के लोग शब- ए- बरात मनाएंगे। तो वहीं गिरजाघरों में मसीही समाज पाम संडे की विशेष प्रार्थना सभा करेेगा। वहीं दूसरी तरफ शहर से लेकर गांव तक जगह-जगह होली जताई जाएगी और मस्जिद, मजार व कब्रिस्तानों पर इबादत के साथ मोमबत्ती की रोशनी बिखरेगी।

शब-ए- बरात पर रात भर मुस्लिम मोहल्लों में चहल पहल रहती है और दूसरी तरफ होलिका पर रात में होलिका दहन के बाद अगले दिन होली मनाई जाएगी।

हिंदू और मुस्लिम धर्मगुरुओं की मानें तो पहली बार होलिका दहन और शब-ए-बरात एक ही रात मनाएं जाएंगे। इसके अगले दिन होली खेली जाएगी। दूसरी ओर मुस्लिम एक दिन का रोजा रखेंगे। इसी तरह अप्रैल में भी सौहार्द देखने को मिलेगा।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *