Wednesday 16 Jun 2021 12:36 PM

10 माह से खुशी दुबे सहित चार बेगुनाह महिलाओं को जेल में क्यों रखा है : नीलम यादव

10 माह से खुशी दुबे सहित चार बेगुनाह महिलाओं को जेल में क्यों रखा है : नीलम यादव

PPN NEWS

लखनऊ :

10 माह से खुशी दुबे सहित चार बेगुनाह महिलाओं को जेल में क्यों रखा है : नीलम यादव

उत्तर प्रदेश में खुद सरकार महिलाओं से दुर्व्यवहार और उनका उत्पीड़न करने में लगी हुई है। योगी सरकार उत्तर प्रदेश को महिलाओं के लिए यातना गृह बनाने पर आमादा है, जो हम हरगिज होने नहीं देंगे। गुरुवार को आम आदमी पार्टी महिला विंग की प्रदेश अध्यक्ष नीलम यादव ने विक्रम कांड में 10 महीने से जेल में बंद 4 महिलाएओं सहित ढाई साल के मासूम की रिहाई एवं महिला अपराध के अन्य मामलों में कार्रवाई की मांग को लेकर पार्टी कार्यालय पर आयोजित धरने के दौरान ये बातें कहीं।  


उन्होंने कहा कि बिकरू कांड में विधि विरुद्ध तरीके से 4 महिलाओं को 10 माह से जेल में रखने पर योगी आदित्यनाथ को जवाब देना चाहिए। उन्हें बताना चाहिए कि इन महिलाओं का कसूर क्या है। नीलम यादव ने कहा कि प्रदेश में बेटियां कहीं भी महफूज नहीं रह गई हैं। मेरठ में कार्रवाई न होने के कारण छेड़छाड़ आहत किशोरी ने आत्महत्या कर लेती है।


खरखोदा में सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता को आरोपी तमंचा लेकर दौड़ा लेते हैं। कानून व्यवस्था की बद से बदतर हालत के कारण आज बेटियां घर से बाहर निकलने में भी डर रही हैं। उन्हें सुरक्षा दिलाने की कौन कहे, योगी आदित्यनाथ की सरकार महिलाओं को डराने में जुटी हुई है।


बहुचर्चित बिकरु कांड में मारे गए अमर दुबे की नवविवाहिता नाबालिक पत्नी खुशी दुबे सहित चार महिलाएं और एक ढाई साल का बच्चा 10 माह से जेल में बंद है। यह हालत तब है जब खुशी दुबे की गिरफ्तारी के वक्त तत्कालीन एसएसपी ने उसे निर्दोष बताते हुए जल्द उसकी रिहाई होने की बात कही थी।


इनका नाम पुलिस की पहली एफ आई आर में भी नहीं है। इसके बाद भी योगी सरकार नफरत और प्रतिशोध की राजनीति में 10 महीने से चार बेगुनाह महिलाओं को जेल में सड़ा रही है। शीघ्र इन महिलाओं की और बच्चे की रिहाई नहीं हुई तो आम आदमी पार्टी इस मामले को लेकर पूरे प्रदेश भर में आंदोलन छेड़ेगी।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *