Wednesday 25 Nov 2020 19:00 PM

Breaking News:

कर्तनिया क्षेत्र में जंगली हाथियों का जारी है उत्पात, 65 बीघा धान की फसल बर्बाद

कर्तनिया क्षेत्र में जंगली हाथियों का जारी है उत्पात, 65 बीघा धान की फसल बर्बाद

prakash prabhaw news

मिहींपुरवा/बहराइच

रिपोर्ट विशाल अवस्थी

कर्तनिया क्षेत्र में जंगली हाथियों का जारी है उत्पात, 65 बीघा धान की फसल बर्बाद

निशानगाड़ा रेंज के रमपुरवा फ़क़ीरपुरी में नेपाल‌ से आये टस्कर हाथियों का झुंड पूरी रात चिंघाड़ता रहा। 

दहशत में है ग्रामीण। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि इस समय गांव के समीप मौजूद है 17 हाथियों का झुंड जिसमे 3 बच्चे भी है शामिल।

कर्तनिया वन्य जीव प्रभाग में नेपाली टस्कर हाथियों का झुंड इन दिनों जमकर उत्पात मचाए हुए हैं।  जंगली हाथियों के आतंक से ग्रामीण इनदिनो दहशत में दिन गुजार रहे हैं।

सोमवार की सुबह निशान गाढ़ा रेंज के फकीर पुरी गांव के मजरे रमपुरवा में नेपाल से आया जंगली हाथियों के झुंड ने लगभग 65 बीघा धान की फसल को रौंदकर बर्बाद कर डाला। ग्रामीणों ने बताया कि रविवार की रात से ही टस्कर हाथियों का झुंड गांव के समीप आकर चिंघाड़ने लगे रात भर यह हाथी गांव के आस पास खेतो में टहलते रहे । इन हाथियों के भय के कारण रात के समय कोई भी ग्रामीण हाका लगाने इनके समीप नही गया। सोमवार की सुबह जब ग्रामीण हिम्मत कर अपने अपने खेतो के समीप पहुंचे तो भी हाथियों का झुंड खेतो में ही मौजूद मिला।  प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि नेपाल से आये टस्कर हाथियों के झुंड में 17 हाथी व 3 हाथी के बच्चे मौजूद थे।

हाथियों के झुंड ने फकीरपुरी के ग्रामीण छाजूराम, बृजमोहन, लक्ष्मीराम, श्यामपाल, लालबहादुर, सूरज लाल, राजा राम, सोहन कुमार, विक्रम, भग्गू, छोटेलाल, सिंधु, झुक्कू, मक्कू, दुर्जन, मोती राम, बुधराम, कल्लू समेत करीब दो दर्जन किसानों की धान की 65 बीघा फसल को रौंद कर बर्बाद कर डाला। ग्रामीणो ने इसकी सूचना वन विभाग को देते हुये हाथियों से हुये फसल के नुकसान के मुआवजे की मांग की।   

मौके पर पहुचे वन दरोगा मनोज पाठक, शत्रोहन, बुधराम ने किसानो के नुकसान का मौका मुआयना किया तथा ग्रामीणो को वन्यजीवों की सुरक्षा हेतु जागरुक‌ करते हुये वन्य जीवों से बचाव हेतु टिप्स भी दिये।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *