Monday 23 May 2022 12:58 PM

एटीएमों में नहीं हो रहा शारीरिक दूरी का पालन, सैनिटाइजर भी गायब

एटीएमों में नहीं हो रहा शारीरिक दूरी का पालन, सैनिटाइजर भी गायब

पीलीभीत न्यूज

रिपोर्ट:- नीलेश चतुर्वेदी

एटीएमों में नहीं हो रहा शारीरिक दूरी का पालन, सैनिटाइजर भी गायब

पीलीभीत । शहर में कई निजी व सरकारी बैंकों के एटीएम में गार्ड तैनात नहीं है, जिसके चलते इन एटीएम में न तो शारीरिक दूरी का पालन हो रहा है और न ही एटीएम में पैसों की निकासी के लिए बनाए गए सुरक्षा मानकों का। एक साथ कई लोगों के एटीएम में प्रवेश से एक ओर जहां कोरोनाकाल में शारीरिक दूरी के नियम का उल्लंघन हो रहा है, तो दूसरी ओर एटीएम की प्रायवेसी पर भी खतरा मंडरा रहा है। लेकिन बैंक प्रबंधन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। अभी हाल ही में जनपद में एक बैंक प्रबंधक भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है।

कोरोना वायरस संक्रमण एक बार फिर देश में अपने पैर पसारने लगा है। जिले में मास्क के प्रयोग को एक बार फिर से अनिवार्य कर दिया गया है। संक्रमण रोकने के लिए सरकार ने सुरक्षित शारीरिक दूरी रखने के निर्देश दिए हैं। इन निर्देशों का पालन कुछ ही जगह पर हो रहा है। शहर के कई सरकारी और प्राइवेट बैंकों के एटीएम में इन नियमों को ताक पर रख दिया गया है। एटीएम में न तो अब सैनिटाइजर रखा जा रहा है और न ही लोगों को शारीरिक दूरी के नियम का पालन कराने के लिए गार्ड ही तैनात हैं। कई एटीएम को तो सैनिटाइज कराना भी बंद कर दिया है।

रोजना सैकड़ों की संख्या में लोग एटीएम में पहुंचकर एटीएम का प्रयोग करते हैं, उनके द्वारा बार-बार दरवाजे को खोला जाता है, जिससे दरवाजे व ग्राहकों के हाथ सैनिटाइज नहीं होने से संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है। पूर्व में लाकडाउन के दौरान बैंको के द्वारा एटीएम में गार्ड तैनात किए गए थे। एटीएम में एक बार में एक ही व्यक्ति को प्रवेश दिया जा रहा था और सैनिटाइजर का उपयोग भी कराया जा रहा था। लेकिन अब एटीएम में न तो गार्ड तैनात है और न ही सैनिटाइजर। कुछ एटीएम में टूटे-फूटे डिब्बों में सैनिटाइजर रखा हुआ है, जिस प्रयोग में लाना संभव नहीं है।

एटीएम में पहुंच रहे ग्राहक भी लापरवाह

एटीमए में कोरोना संक्रमण के बचाव के निर्देशों का पालन कराने में जहां कई बैंक प्रबंधन लापरवाह नजर आ रहे हैं, वहीं बैंकों के कई ग्राहक भी लापरवाही बरत रहे हैं। एटीएम का प्रयोग करने पहुंच रहे कई लोगों के द्वारा मास्क का प्रयोग नहीं किया जा रहा है। ग्राहकों की लापरवाही उनके लिए नुकसानदायक साबित हो सकती है।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *