Tuesday 01 Dec 2020 22:49 PM

Breaking News:

अधिकारियों से न्याय न मिलने से आहत भाजपा कार्यकर्ता ने फाँसी लगाकर जान देने की कोशिश

अधिकारियों से न्याय न मिलने से आहत भाजपा कार्यकर्ता ने फाँसी लगाकर जान देने की कोशिश , मौके पर पहुंची पुलिस ने बचाई जान।

रिपोर्ट : जिला ब्यूरोचीफ मनोज कुमार सीतापुर ।

रामपुर मथुरा , सीतापुर।

जनपद सीतापुर की तहसील महमूदाबाद के थाना रामपुर मथुरा क्षेत्र में भाजपा सेक्टर प्रभारी ने पेड़ पर चढ़कर फांसी के फंदे से लटक कर जान देने की कोशिश पुलिस ने मौके पर पहुंचकर युवक की बचाई जान। प्राप्त जानकारी अनुसार रामपुर मथुरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत पांडे पुरवा मजरा रामपुर मथुरा निवासी अश्वनी पांडे पुत्र जगमोहन का गांव के ही राकेश , सूरज , प्रमोद , संदीप ,महेश आदि लोगों से नाली खड़ंजा वह  पुश्तैनी जमीन को लेकर काफी विवाद चल रहा था । जिसमें अश्वनी पांडे कई बार थाना रामपुर मथुरा सहित अन्य  उच्चाधिकारियों को प्रार्थना पत्र दिया ।लेकिन फिर भी कोई कार्यवाही नहीं हुई । बीते दिवस शनिवार को विपक्षी 112 नंबर  डायल कर पुलिस को बुलाया। और फर्जी तरीके से अश्वनी पांडे पर फर्जी आरोप लगाए ।

जिस पर डायल 112 मौके पर पहुंची ।और फर्जी शिकायत पाया।  उसी बात को लेकर अश्वनी पांडे अपने मान सम्मान के प्रति फर्जी आरोपों से आहत होकर तथा न्याय ना  मिल पाने की वजह से रविवार  को दिन मैं लगभग 11:00 बजे के आस पास बबूल के पेड़ पर चढ़कर रस्सी का फंदा लगाकर जान देने की कोशिश की। जिस को ग्रामीणों ने देख पुलिस को सूचित किया।और  मौके पर थाना अध्यक्ष संजय कुमार पहुंचकर पेड़ पर चढ़े अश्वनी पांडे की शिकायत को सुना तथा उच्च अधिकारियों से बात करके निस्तारण करने की बात कहीं ।

तथा विरोधियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत करने का आश्वासन भी दिया।  वहीं भाजपा  जिला प्रतिनिधि  लक्ष्मी नारायण मौर्य भी अपने कार्यकर्ताओं के साथ मौके पर  पहुंच कर । काफी समझाया बुझाया और उसके बाद काफी मान मनौव्वल के बाद अश्वनी पांडे पेड़ से नीचे उतर आये।

वही जब पीड़ित अश्वनी पांडे थाना अध्यक्ष संजय कुमार से बात कर रहे थे।  वही पीड़ित अश्विनी कुमार ने  कहा कि हमारे प्रकरण को  उच्च अधिकारी  व जिलाधिकारी संज्ञान नहीं ले रहे है।तो वहीं पर खड़े एक तथाकथित व्यक्ति ने जिला अधिकारी को अपशब्दों से नवाजा जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। अब देखना यह है कि जिले के ईमानदार मुखिया को अपशब्दों से नवाजने वाले व्यक्ति के खिलाफ क्या कार्यवाही होती है या नही।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *