Sunday 26 Jun 2022 13:29 PM

ग्रामीणों की बकाया वाटर टेस्ट की वजह से ग्रामीण स्वयं पानी के लिए परेशान

ग्रामीणों की बकाया वाटर टेस्ट की वजह से ग्रामीण स्वयं पानी के लिए परेशान

PRAKASH PRABHAW NEWS

रिपोर्ट-अभिषेक बाजपेयी


ग्रामीणों की बकाया वाटर टेस्ट की वजह से ग्रामीण स्वयं पानी के लिए परेशान



पानी की किल्लत से सरेनी विधानसभा राम खेड़ा गांव में त्राहिमाम


रायबरेली-उत्तर प्रदेश के जनपद रायबरेली स्थित विधानसभा सरेनी में एक ऐसा गांव जहां गांव के ग्रामीण अपनी ही खामियों की वजह से बूंद बूंद पानी के लिए तरस रहे हैं दरअसल मामला रायबरेली के स्थित सरेनी विधानसभा राम खेड़ा का है जहां उस ग्रामसभा में समस्त ऐसे 25 गांव जो कि पानी के लिए त्राहि त्राहि माम मचा हैं। दरअसल सरेनी विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत राम खेड़ा में पानी की टंकी विगत कई वर्षों से वहां पर स्थित है लेकिन सात आठ महीने से अभी तक उस टंकी का पानी गांव तक नहीं पहुंच पा रहा है जिसका कारण ग्रामीणों ने वाटर टैक्स अभी तक नहीं भरा जहां लगभग 1800000 कुछ रुपए ग्रामीणों का वाटर टैक्स बचा हुआ है

जहां इस दौरान *रफ्तार मीडिया के संवाददाता ने ग्राउंड जीरो* पर रिपोर्टिंग की रिपोर्टिंग से पता चला कि अभी तक ग्रामीणों ने वाटर टैक्स नहीं भरा जब इस मामले को लेकर जल निगम अधिकारी सचिन प्रजापति से बात की गई तो उन्होंने कहा हम समस्त कर्मचारियों ने गांवों का विजिट किया विजिट के दौरान लगभग 18 लाख रुपए बकाया है जिसका भुगतान ग्रामीणों ने नहीं किया फिर भी इस योजना को चलाने के लिए हम लोग लगे हुए हैं और ग्रामीणों का सहयोग चाहते हैं।

जहां उसके बाद इस मामले को लेकर रायबरेली की जिला अधिकारी से बात की गई तो तत्काल उन्होंने लालगंज उप जिलाधिकारी को जांच करने के लिए आदेश दिए जहां लालगंज उप जिलाधिकारी ने जल निगम अधिकारी से बात की फिलहाल 7 महीने बीत चुके हैं पानी की टंकी अभी तक बंद पड़ी है और उस जगह अब जानवर पाले जाते हैं एक तरफ भीषण गर्मी दूसरी तरफ 25 गांव जो की बूंद बूंद पानी के लिए उस गांव में त्राहिमाम मची हुई है।

Comments

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *